नए साल में सूर्य मंगल, बुध, शुक्र और गुरु ग्रह सभी राशि परिवर्तन करेंगे। लेकिन शनि और राहु केतू ग्रह पूरे साल राशि परिवर्तन नहीं करेंगे। इनमें देवगुरु बृहस्पति 6 अप्रैल को कुंभ राशिमें गोचर करेंगे। गुरु साल में तीन बार राशि परिवर्तन करेंगे, जो बहुत ही महत्वपूर्ण साबित होगा। देवगुरु बृहस्पति 6 अप्रैल को कुंभ राशिमें, 14 सितंबर को मकर राशि में और 21 नवंबर को फिर कुंभ राशि में गोचर करेंगे, फिलहान अभी शनि और गुरु मकर राशि में हैं।

Shani 2021: साल 2021 में मकर राशि में ही रहेंगे शनि, जनवरी 22 को शनि करेंगे नक्षत्र परिवर्तन, इन 5 राशियों की चमकेगी किस्मत

पिछले साल 2020 में जहां जनवरी में ही शनि ने मकर राशि में प्रवेश किया था, वहीं अब इस नए साल शनि राशि परिवर्तन नहीं करेंगे। पिछले साल शनि 11 मई से 28 सितंबर तक मकर राशि में ही वक्री रह थे। इस बार पूरे साल शनि मकर राशि में ही रहेंगे। इसके अलावा  शनिदेव मकर राशि में 18 जनवरी 2023 तक स्वगृही रहेंगे। इस बीच 30 अप्रैल 2022 से 9 जुलाई 2022 तक कुम्भ राशि में गोचर करेंगे। शनि के राशि परिवर्तन का सभी राशियों पर सकारात्मक औऱ नकारात्मक दोनों तरह का प्रभाव होता है, वैसे भी शनि को न्याय प्रिय ग्रह माना जाता है। शनि आपको आपके कर्म के अनुसार फल देते हैं।

Rahu Gochar 2021: नए साल में राहु गोचर से इन राशियों को होगा जबरदस्त लाभ, ये रहें संभलकर

राहु का राशि परिवर्तन
राहु ग्रह का साल 2021 में यूं तो कोई भी राशि परिवर्तन नहीं है लेकिन राहु नक्षत्र परिवर्तन करते हुए इस पूरे ही साल सभी जातकों को प्रभावित करने वाला है। पिछले साल सितंबर में राहु वृषभ और केतू वृश्चिक राशि में आए थे।

Source link

Comment here