BUZZBureaucratMp Updateजनसम्पर्क

इंदौर में 30 जून तक तैयार होगा सुपर स्पेशलिटी अस्पताल

Indore_Super_specialty

इंदौर. मध्यप्रदेश के इंदौर को 30 जून तक सुपर स्पेशलिटी अस्पताल की सौगात मिलने जा रही है। कोविड 19 के मरीजों की संख्या को देखते हुए इस अस्पताल की सख्त आवश्यकता है। ऐसे में जिला प्रशासन के साथ कैलाश विजयवर्गीय ने आज एमवाय अस्पताल परिसर स्थित निर्माणाधीन सुपर स्पेशलिटी सेंटर का निरीक्षण किया तथा आवश्यक दिशा-निर्देश दिये।

कमिश्नर आकाश त्रिपाठी
सुपर स्पेशलिटी अस्पताल

कमिश्नर आकाश त्रिपाठी ने संबंधित ठेकेदार को निर्देश दिये कि इस अस्पताल का काम 30 जून से पूर्व पूरा हो जाना चाहिये। इंदौर की बढ़ती हुई आबादी और कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुये इस अस्पताल की सख्त आवश्यकता हैं। इंदौर शहर में इंदौर संभाग, उज्जैन संभाग और हरदा जिले के मरीज मुख्य रूप से इलाज कराने आते है। इस लिये इंदौर में स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार की सख्त जरूरत है। इस अस्पताल के लिये आवश्यक मशीनों की खरीदी की जा रही है और डॉक्टरों तथा पैरामेडिकल स्टॉफ की भर्ती प्रक्रिया जारी है। एक माह में भर्ती प्रक्रिया पूरी कर ली जायेगी।

इधर कलेक्टर मनीष सिंह ने कहा कि इस अस्पताल के निर्माण का कार्य तेजी से चल रहा है। कोविड-19 के मरीजों की संख्या को देखते हुये इस अस्पताल की सख्त आवश्यकता होगी। राज्य शासन द्वारा इस अस्पताल के लिये पदों की स्वीकृति प्रदान कर दी गई है। इस अस्पताल में एक सप्ताह के अंदर विद्युत कार्य पूरा हो जायेगा और नगर निगम इंदौर द्वारा नर्मदा पाइप लाइन का पेयजल कनेक्शन भी एक सप्ताह में मिल जायेगा। ऑक्सीजन की पाइप लाइन डाली जा रही है। संघन चिकित्सा इकाई कक्ष का काम जारी है।

इंदौर में 30 जून तक तैयार होगा सुपर स्पेशलिटी अस्पताल 5

कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि कोविड-19 संक्रमण को देखते हुये इस अस्पताल को शीघ्रातीशीघ्र पूरा करने की जरूरत है। भवन निर्माण का काम युद्ध स्तर पर चल रहा है। 90 प्रतिशत काम पूरा हो गया है। यह अस्पताल लगभग 365 करोड़ रूपये की लागत से बनाया जा रहा है। 400 बिस्तरों वाला यह अस्पताल 30 जून,2020 तक पूरा हो जायेगा। जुलाई के प्रथम सप्ताह में यह अस्पताल काम करना शुरू कर देगा। यह अस्पताल कोविड-19 के मरीजों के इलाज और क्वोरेंटाइन के लिये इस्तेमाल किया जायेगा। ग्राउंड फ्लोर पर एक्सरे, एमआरआई मशीन और पैथोलॉजी सेंटर बनाया जा रहा है। ऊपर की मंजिल पर बेड होंगे। मशीनें खरीदने और लगाने का काम तेजी से चल रहा है। लिफ्ट का काम शीघ्र पूरा हो जायेगा। फर्श और टाइल्स लगाने का काम लगभग पूरा हो गया है।

Don’t Miss

Google might soon roll out a Smart Compose feature for Google Messages, WhatsApp and Telegram- Technology News, Firstpost

Comments Off on Google might soon roll out a Smart Compose feature for Google Messages, WhatsApp and Telegram- Technology News, Firstpost

WHO declares the end of the second deadliest outbreak of Ebola in Congo- Technology News, Firstpost

Comments Off on WHO declares the end of the second deadliest outbreak of Ebola in Congo- Technology News, Firstpost

Allergic Rhinitis: A neglected disease sharing symptoms with COVID-19; here’s how to identify it

Comments Off on Allergic Rhinitis: A neglected disease sharing symptoms with COVID-19; here’s how to identify it

Plasma Banks opens in Delhi today; CM Arvind Kejriwal issues eligibility criteria for donation | India News

Comments Off on Plasma Banks opens in Delhi today; CM Arvind Kejriwal issues eligibility criteria for donation | India News