Watch Live : CM शिवराज सिंह चौहान शासकीय चिकित्सालय के चिकित्सकों तथा पैरामेडिकल स्टाफ को संबोधित कर रहे हैं

Watch Live : CM शिवराज सिंह चौहान शासकीय चिकित्सालय के चिकित्सकों तथा पैरामेडिकल स्टाफ को संबोधित कर रहे हैं

संकट विकट है। इलाज आपने बहुत किया। जिस दिन से इन महामारी का दुनिया में आना हुआ उससे जूझने का काम आप कर रहे हैं। ये काम आप जान हथेली पर लेकर कर रहे हैं। अगर इस संकट की घड़ी में आप और आपका हौसला न होता तो ये सोच के मन कांप जाता है कि आखिर लोगों का क्या होता।

दूसरों की जान बचाते बचाते हमारे डॉक्टर, नर्सेस, पैरामेडिकल स्टाफ चले गये। मन व्यथित होता है। ऐसे डॉक्टर मित्रों को जानता हूं कि इलाज करते हुये उनकी जान चली गई।

मैं प्रदेश की 8 करोड़ जनता की ओर से आपको आदरंजली समर्पित करता हूं। आप लगातार जुटे हैं। अपने कर्तव्य का निर्वहन करते हुये। हमने कोविड योद्धा योजना फिर से चालू कर दी है। भगवान न करे कि ऐसा दिन देखना पड़े लेकिन सेवा करते हुये अगर कोई स्वास्थ्य कर्मी चला गया तो 50 लाख की सहायता राशि उनके परिवार को सरकार की तरफ से दी जायेगी।

दूसरी लहर कहर बन के टूटी है। पिछले एक सप्ताह से आप देखेंगो तो मन में आशा जगती है। पॉजिटिविटि रेट धीरे धीरे नीचे आ रही है। रिकवरी रेट बढ़ने लगी है। 94 हजार से ज्यादा एक्टिव केस हो गये थे। लगभग 70 हजार लोग होम आइसोलेशन में है।

इस महासंकट में आपने तेजी से लोगों को ठीक किया है। मृत्यु दर 1 प्रतिशत से कुछ अधिक है हमारे यहां। लगभग 99 प्रतिशत लोग ठीक हो के जा रहे हैं। इसमें सरकारी अस्पतालों की बड़ी भूमिका है। सच में सरकारी अस्पताल आम जनता का सहारा है।

अगर जिलों में और जिलों के नीचे के अस्पतालों में अगर हम व्यापक काम नहीं करते तो बड़े अस्पतालों में और ज्यादा भीड़ होती। जिला अस्पतालों में ऑक्सीजन लाइनें बिछाई जा रही है। आगे आने वाले समय में ऑक्सीजन की कमी नहीं रहेंगे। दूध का जला तो छांछ भी फूंक फूंक के पीता है।

जिला अस्पताल और उसके नीचे के अस्पतालों की बहुत जबरदस्त भूमिका है इस समय। मैं ऐसे डॉक्टरों को जानता हूं जो तीन तीन दिन तक घर नहीं गये। कार में सोये। मरीजों का इलाज किया।

कोविड के इलाज के साथ साथ बाकी पेशेंट भी अनदेखे न हों। मुझे पूरा विश्वास है कि अगर लोग स्वस्थ होते हैं तो आधे दवाई से और आधे आपके मनोबल बढ़ाने से, व्यवहार से होते हैं। समाज के ऊपर ऋण है आपका।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *