Connect with us

Top News

Digital University Making World-Class Higher Education Accessible for All: PM

Published

on

Digital University Making World-Class Higher Education

National Digital University Making World-Class Higher Education

Digital University Making World-Class Higher Education

PM नरेंद्र मोदी ने आज शिक्षा के क्षेत्र में इस साल के केंद्रीय बजट के सकारात्मक प्रभाव पर चर्चा की। पीएम ने देश की युवा पी​ढ़ी को संबोधित करते हुए कहा कि हमारी आज की युवा पीढ़ी, देश के भविष्य की कर्णधार है, वही भविष्य के Nation Builders हैं। इसलिए आज की युवा पीढ़ी को empowering करने का मतलब है, भारत के भविष्य को empower करना।

Advertisement

पीएम ने कहा कि पांचवा महत्वपूर्ण पक्ष है- AVGC- यानि Animation Visual Effects Gaming Comic, इन सभी में रोजगार की अपार संभावनाएं हैं, एक बहुत बड़ा ग्लोबल मार्केट है। मोदी ने बताया कि चौथा अहम पक्ष है Internationalization भारत में वर्ल्ड क्लास विदेशी यूनिवर्सिटियां आएं, जो हमारे औद्योगिक क्षेत्र हैं, जैसे GIFT City, वहां FinTech से जुड़े संस्थान आएं, इसे भी प्रोत्साहित किया गया है: 2022 के बजट में Education Sector से जुड़ी पांच बातों पर बहुत जोर दिया गया है।

पीएम ने कहा कि पहला – Universalization of Quality Education : हमारी शिक्षा व्यवस्था का विस्तार हो, उसकी क्वालिटी सुधरे और एजुकेशन सेक्टर की क्षमता बढ़े, इसके लिए अहम निर्णय लिए गए हैं। Digital connectivity ही है जिसने वैश्विक महामारी के इस समय में हमारी शिक्षा व्यवस्था को बचाए रखा। हम देख रहे हैं कि कैसे भारत में तेजी से digital divide कम हो रहा है।

Advertisement

पीएम ने कहा कि Innovation हमारे यहां inclusion सुनिश्चित कर रहा है। ई-विद्या हो, वन क्लास वन चैनल हो, डिजिटल लैब्स हों, डिजिटल यूनिवर्सिटी हो, ऐसा एजुकेशनल इंफ्रास्ट्रक्चर युवाओं को बहुत मदद करने वाला है। ये भारत के socio-economic setup में गांव हों, गरीब हों, दलित, पिछड़े, आदिवासी, सभी को शिक्षा के बेहतर समाधान देने का प्रयास है।

नेशनल डिजिटल यूनिवर्सिटी, भारत की शिक्षा व्यवस्था में अपनी तरह का अनोखा और अभूतपूर्व कदम है। मैं डिजिटल यूनिवर्सिटी में वो ताकत देख रहा हूं कि ये यूनिवर्सिटी हमारे देश में सीटों की जो समस्या होती है, उसे पूरी तरह समाप्त कर सकती है। आज विश्व मातृभाषा दिवस भी है। मातृभाषा में शिक्षा बच्चों के मानसिक विकास से जुड़ी है। अऩेक राज्यों में स्थानीय भाषाओं में मेडिकल और टेक्निकल एजुकेशन की पढ़ाई शुरु हो चुकी है।

Advertisement

Advertisement
Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.