Income Tax Department launch new portal today

Income Tax Department launch new portal today

भारत सरकार के आयकर विभाग (Income Tax Department) आज नया इनकम टैक्स फाइलिंग पोर्टल (Income Tax Filing website) लांच करने जा रहा हैं। Income Tax India के Twitter handle ने सुबह tweet कर इसकी जानकारी दी।

PIB के अनुसार करदाता-अनुकूल नए पोर्टल को आयकर रिटर्न (आईटीआर) ITR की तत्काल प्रोसेसिंग सुविधा के साथ एकीकृत कर दिया गया है, ताकि करदाताओं को त्वरित रिफंड जारी किया जा सके।

इसमें सभी परस्‍पर संवादों (इंटरैक्शन) और अपलोड या लंबित कदमों को एकल डैशबोर्ड पर दर्शाया जाएगा, ताकि करदाता आगे की कार्यवाही कर सकें।

आपको बता दे कि इस नये पोर्टल पर संवादात्‍मक प्रश्नों के साथ नि:शुल्‍क आईटीआर तैयारी सॉफ्टवेयर उपलब्ध है, ताकि शुरुआत में आईटीआर 1, 4 (ऑनलाइन एवं ऑफलाइन) और आईटीआर 2 (ऑफलाइन) के लिए करदाताओं की मदद की जा सके। वहीं दूसरी ओर आईटीआर 3, 5, 6, 7 तैयार करने की सुविधा भी शीघ्र ही इस पर उपलब्ध कराई जाएगी।

Income Tax Department
Image source Income Tax Department Twitter Handle

Income Tax पोर्टल के कुछ खास फिचर

  • करदाता वेतन, आवास संपत्ति, व्यवसाय/पेशे सहित आय के कुछ विशेष विवरण प्रदान करने के लिए अपने प्रोफाइल को सक्रिय रूप से अपडेट करने में सक्षम होंगे। जिसका उपयोग उनके आईटीआर को पहले से ही भरने में किया जाएगा।
  • टीडीएस और एसएफटी विवरण के अपलोड होने के बाद वेतन आय, ब्याज, लाभांश और पूंजीगत लाभ को पहले से ही भरने की विस्तृत क्षमता उपलब्ध होगी। ​इसी अंतिम तिथि 30 जून, 2021 होगी।
  • करदाताओं के प्रश्नों का शीघ्र उत्तर देने के उद्देश्‍य से करदाताओं की सहायता के लिए नया कॉल सेंटर। विस्तृत एफएक्‍यू (प्राय: पूछे जाने वाले प्रश्न), उपयोगकर्ताओं के लिए नियमावली, वीडियो और चैटबॉट/लाइव एजेंट भी प्रदान किए गए।
  • आयकर फॉर्म भरने, टैक्स प्रोफेशनल्स को जोड़ने, फेसलेस स्क्रूटनी या अपील में नोटिस के जवाब प्रस्‍तुत करने की सुविधाएं उपलब्ध होंगी।

सबसे महत्वपूर्ण बात
आयकर विभाग द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार नई कर भुगतान प्रणाली का शुभारंभ 18 जून, 2021 को अग्रिम कर की किस्त की तारीख के बाद किया जाएगा, ताकि किसी भी करदाता को असुविधा न हो। पोर्टल की आरंभिक लॉन्चिंग के बाद मोबाइल एप को भी जारी किया जाएगा, ताकि करदाताओं को विभिन्न सुविधाओं से परिचित कराया जा सके।

PIB के अनुसार विभाग का कहना है कि नई प्रणाली से परिचित होने में कुछ समय लग सकता है, इसलिए आयकर विभाग सभी करदाताओं/हितधारकों से नए पोर्टल की लॉन्चिंग और अन्‍य सुविधाओं के जारी होने के बाद की प्रारंभिक अवधि के लिए इंतजार रखने के लिये कहा है क्योंकि यह एक बड़ा परिवर्तन है। यह सीबीडीटी द्वारा अपने करदाताओं एवं अन्य हितधारकों को अनुपालन में आसानी प्रदान करने की दिशा में एक और पहल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *