Madhya Pradesh reaches out to 72% post COVID-19 patients

Madhya Pradesh reaches out to 72% post COVID-19 patients

मध्यप्रदेश Madhya Pradesh में डिस्टिक्ट कमांड एण्ड कंट्रोल सेंटर्स के माध्यम से 72% पोस्ट COVID-19 मरीजों से सम्पर्क कर लिया गया और उन्हें चिकित्सकीय परामर्श दिया जा रहा है। प्रदेश में स्वस्थ हुए कुल पोस्ट कोविड Post COVID मरीजों में से 0.7% मरीजों में ही पोस्ट कोविड कॉम्प्लिकेशन पाए गए।

प्रदेश की साप्ताहिक पॉजिटिविटी 1.5% तथा आज की पॉजिटिविटी 1.0% है। इधर प्रदेश के 32 जिले ग्रीन जोन में हैं, जहां 01% से कम साप्ताहिक पॉजिटिविटी है। प्रदेश के शेष जिले ऑरेंज जोन में हैं जहां 1% से 5% तक साप्ताहिक पॉजिटिविटी है। तीन जिलों अलीराजपुर, छतरपुर तथा झाबुआ में नए प्रकरण 0 हैं तथा तीन जिलों बुरहानपुर, कटनी तथा मंडला में 1-1 नए प्रकरण आए हैं। अलीराजपुर जिले में केवल 02 एक्टिव प्रकरण हैं।

Photo Credit Twitter OfficeofSSC

प्रदेश के 4 जिले ऐसे है जिनमें 15 से अधिक नए प्रकरण आए हैं। इंदौर में 246, प्रकरण, भोपाल में 176, जबलपुर में 64 तथा सागर में 18 नए प्रकरण आए हैं। बात इंदौर के साप्ताहिक पॉजिटिविटी दर की करें तो यहा 4.4%, भोपाल की 3.4%, जबलपुर की 1.6% तथा सागर में 1.1% पॉजिटिविटी दर दर्ज की गई हैं।

दूसरी ओर प्रदेश में अब कोरोना के 5006 मरीज अस्पतालों में भर्ती हैं, 7883 मरीज होम आइसोलेशन में हैं। अस्पतलों में भर्ती मरीजों में 1834 मरीज आई.सी.यू. में, 2011 मरीज ऑक्सीलन बैड्स पर तथा 1161 मरीज सामान्य बैड्स पर हैं।

Photo Credit Twitter OfficeofSSC

स्वास्थ्य विभाग द्वारा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को कोरोना की समीक्षा में बताया गया की प्रदेश में ब्लैक फंगस रोग के इंजैक्शन “एम्फोटैरिसन बी” की पर्याप्त उपलब्धता हो गई है, जिन्हें शासकीय एवं निजी दोनों अस्पतालों को दिया जा रहा है। प्रदेश में पोस्ट कोविड मरीजों का भी पूरा ध्यान रखा जा रहा है। इन मरीजों से नियमित रूप से चिकित्सक बातचीत कर इन्हें आवश्यक परामर्श दे रहे हैं।

मुख्यमंत्री चौहान ने भी बैठक में निर्देश दिये है कि प्रदेश में कोरोना के अधिक से अधिक टैस्ट कराकर एक- एक मरीज को ढूंढ़कर उनका इलाज किया जाए और प्रतिदिन टैस्ट की संख्या लगभग 80 हजार की जाना चाहिए।

प्रदेशमें ब्लैक फंगस के इंजैक्शन “एम्फोटेरिसन बी” आज 12600 प्राप्त हुए हैं, जिन्हें हवाई मार्ग से बुलवाया गया है। दो दिन बाद 17 हजार इंजैक्शन और मिल जाएंगे। प्रदेश में वर्तमान में ब्लैक फंगस बीमारी के 1005 सक्रिय मरीज हैं। भोपाल में 235, इंदौर में 428, जबलपुर में 116, सागर में 40, उज्जैन में 85, ग्वालियर में 52, रीवा में 31, देवास में 15, रतलाम में 02 तथा बुरहानपुर में 01 ब्लैक फंगस के मरीज हैं।

Photo Credit Twitter OfficeofSSC

जबलपुर जिले की समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री चौहान ने निर्देश दिए कि अधिक से अधिक व्यक्तियों के टैस्ट कराए जाएं तथा पॉजिटिव पाए गए हर व्यक्ति की कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग करें। जबलपुर में कोरोना के 64 नए प्रकरण आए हैं, साप्ताहिक पॉजिटिविटी 1.5% है तथा आज की पॉजिटिविटी 1.1% है। अस्पतालों में आई.सी.यू. में 370 कोरोना के मरीज भर्ती हैं, इन्हें अच्छे से अच्छा इलाज दिए जाने के निर्देश दिए गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *