न्याय के देवता कहे जाने वाले शनिदेव  साल 2021 में शनिदेव कोई राशि परिवर्तन नहीं करेंगे। शनिदेव मकर राशि में ही पूरे साल विराजमान रहेंगे। इसी राशि में रहकर शनि पूरे चराचर जगत को प्रभावित करेंगे। लेकिन साल 2021 में  शनि का नक्षत्र परिवर्तन होगा। 22 जनवरी को शनि देव श्रवण नक्षत्र में प्रवेश करेंगे, इससे पहले ये  उत्तराषाढ़ा नक्षत्र  में रहेंगे। शनि देव के  श्रवण नक्षत्र में गोचर करने से विभिन्न राशियों पर अलग-अलग प्रभाव पड़ेंगे। शनिदेव को कर्म का कारक भी माना जाता है, इशका मतलब है कि शनि आपके कर्म के अनुसार फल देते हैं।

शनि कब करेंगे राशि परिवर्तन
उत्थान ज्योतिष संस्थान के निदेशक ज्योतिषाचार्य पं. दिवाकर त्रिपाठी ‘पूर्वांचली’ के अनुसार शनिदेव मकर राशि में 18 जनवरी 2023 तक स्वगृही रहेंगे। इस बीच 30 अप्रैल 2022 से 9 जुलाई 2022 तक कुम्भ राशि में गोचर करेंगे। 

जानें राशियों पर क्या प्रभाव पड़ेगा
वृषभ राशि: शनि गोचर 2021 का आपकी राशि पर बहुत ही शुभ परिणाम रहेगा। आपके धन प्राप्ति के योग और जीवन में सकारात्मक परिणाम आएंगे। 

सिंह राशि: इस राशि के लोगों को कुछ अच्छे तो कुछ बुरे परिणाम भी देखने को मिल सकते हैं। इसलिए हमेशा दूसरों की मदद करें

वृश्चिक राशि: शनि देव आपके लिए बहुत ही अच्छा समय लेकर आ रहे हैं। आपके हर काम में आपको सफलता मिलेगी, हर तरह से आपके लिए अच्छा समय है। 

धनु राशि
शनि देव की कृपा से आपको इस साल शुभ समाचार मिलेंगे। नौकरी, कार्यक्षेत्र में आपको सरकारी सहायता से लाभ मिलेगा।

मीन राशि: मीन राशि के लोगों के लिए बहुत ही अच्छा समय है। धन, नौकरी और विरोधियों से आपको सफलता मिलेगी।
 

 

Source link

Comment here